गलवान घाटी में शहीद हुए जवानों के पार्थिव शरीर उनके निवास स्थान में पहुंच रहे हैं. इससे पहले लेह में सैनिक अस्पताल में सभी शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई.

लद्दाख की गलवान घाटी में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चीनी सैनिकों के साथ 15 जून को हुई हिंसक झड़प में भारतीय सेना ने अपने 20 जांबाज जवानों को खो दिया था. शहीद जवानों के पार्थिव शरीर अब उनके घरों में पहुंचने लगे हैं. ये 20 शहीद देश के अलग-अलग राज्यों के थे. सबसे ज्यादा 5 जवान बिहार के रहने वाले थे.

पीएम मोदी ने जताया शोक

जवानों की शहादत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी शोक व्यक्त किया और उन्हें नमन करते हुए कहा कि उनका बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा. मोदी ने साथ ही कहा कि भारत शांति चाहत है लेकिन अगर उसे उकसाया गया तो करारा जवाब मिलेगा.

इससे पहले शहीद जवानों को लेह के सैनिक अस्पताल में ही श्रद्धांजलि दी गई. इस मौके पर लद्दाख के उप-राज्यपाल राम कृष्ण माथुर भी मौजूद थे, जिन्होंने शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की.

सरहद पर जान गंवाने वाले 20 शहीदों को सलाम

  1. कर्नल संतोष बाबू, तेलंगाना
  2. हवलदार के. पलनी, तमिलनाडु
  3. हवलदार सुनील कुमार, बिहार
  4. सिपाही चंदन कुमार, बिहार
  5. सिपाही अमन कुमार, बिहार
  6. सिपाही जयकिशोर सिंह, बिहार
  7. सिपाही कुंदन कुमार, बिहार
  8. नायब सूबेदार/AIG मनदीप सिंह, पंजाब
  9. नायब सूबेदार (ड्राइवर), पंजाब
  10. सिपाही गुरबिंदर, पंजाब
  11. सिपाही गुरतेज, पंजाब
  12. सिपाही राजेश ओरांग, पश्चिम बंगाल
  13. हवलदार बिपुल रॉय, पश्चिम बंगाल
  14. सिपाही कुंदन कुमार ओझा, झारखंड
  15. सिपाही गणेश हांदसा, झारखंड
  16. सिपाही चंद्रकांत प्रधान, ओडिशा
  17. नायब सूबेदार नुंदुराम सोरेन, ओडिशा
  18. सिपाही गणेश राम, छत्तीसगढ़
  19. सिपाही अंकुश, हिमाचल प्रदेश
  20. नायक (NA) दीपक सिंह, मध्य प्रदेश

Stock Market Updates

Jalandhar News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *