अब घर बैठे देख सकेंगे बाबा बर्फानी की आरती, अमरनाथ यात्रा का हो सकता है लाइव प्रसारण

कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच देश में पहली बार बाबा बर्फानी की आरती का लाइव प्रसारण होगा. भक्त 05 जुलाई से 03 अगस्त के बीच दूरदर्शन पर लाइव आरती देख सकेंगे.

जम्मू: कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए अगले महीने से शुरू होने वाली अमरनाथ यात्रा और बाबा बर्फानी की आरती का लाइव प्रसारण हो सकता है. उम्मीद है कि 05 जुलाई से 03 अगस्त के बीच बाबा बर्फानी की सुबह और शाम की आरती का सीधा प्रसारण दूरदर्शन पर होगा. श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड (SASB) ने लाइव प्रसारण के लिए दूरदर्शन से अपील की है. पवित्र गुफा से 1.2 किमी दूर एक नया हैलीपैड बनाया जा रहा है. पहलगाम डेवलपमेंट अथॉरिटी को 30 जून तक इसका काम पूरा करने को कहा गया है.

बाबा बर्फानी की आरती का दूरदर्शन पर होगा लाइव प्रसारण

जम्मू में वार्षिक अमरनाथ यात्रा तैयारियों की समीक्षा के लिए हुई बैठक की अध्क्षयता करते हुए श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड के चेयरमैन और प्रदेश के उप-राज्यपाल ने पांच जुलाई की व्यास पूर्णिमा और तीन अगस्त को श्रवण पूर्णिमा पर मुख्य पूजा संपन्न होने तक पवित्र गुफा में बाबा भोलेनाथ के शिवलिंग की पूजा पारम्परिक मान्यताओं से करने के आदेश दिए. इसी बैठक में यह भी निर्णय हुआ कि इस साल बोर्ड विश्व भर में भगवान भोले नाथ के भक्तो के लिए बाबा बर्फानी की सुबह शाम होने वाली आरती का दूरदर्शन पर सीधा प्रसारण करेगा.

श्राइन बोर्ड के सीईओ बिपुल पाठक ने बताया कि पवित्र गुफा में शिविर पहले से ही स्थापित है. बर्फ हटाने का काम पूरा हो चुका है. बेस कैंप बालटाल और नीलग्राथ हैलीपैड अगले सप्ताह तक तैयार कर लिया जाएगा. उपराज्यपाल के सलाहकार बशीर अहमद खान ने विभिन्न विभागों की तरफ से की गई व्यवस्थाओं पर विस्तृत प्रस्तुति दी. मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रह्मण्यम ने यात्रा के लिए नोडल विभाग श्राइन बोर्ड और पर्यटन विभाग से यात्रा के लिए आवश्यक सभी सुविधाओं और व्यवस्थाओं को पूरा करने को कहा है. बैठक में विभिन्न विभागों के आयुक्त सचिव और प्रशासनिक सचिव उपस्थित थे.

दूरदर्शन पर होगा पूजा का लाइव टेलीकास्ट

प्रस्ताव के अनुसार, डीडी नेशनल पर सुबह और शाम को प्रत्येक आधे घंटे के लिए पूजा का लाइव टेलीकास्ट होगा और यह यात्रा अवधि, जीडी ताहिर, हेड प्रोग्रामिंग, दूरदर्शन केंद्र के दौरान डीडी काशीर पर भी प्रसारित किया जा सकता है. SASB ने एक अंग्रेज़ी अखबार से बातचीत में कहा, “अगर यह (टेलीकास्ट) होता है, तो यह पहली बार होगा. हालांकि, अंतिम निर्णय मुख्यालय की तरफ से लिया जाना है.”

ताहिर ने कहा, “SASB ने दूरदर्शन से संपर्क किया है, जिससे लाइव टेलीकास्ट आयोजित करने की संभावना का पता लगाया जा सके.” यह योजना के स्तर पर है. इससे पहले हमने यात्रा के दौरान रिकॉर्ड किए गए कार्यक्रम चलाए हैं. इस बार वे लाइव टेलीकास्ट की योजना बना रहे हैं, क्योंकि कोरोनो वायरस महामारी के कारण तीर्थयात्रियों को थोक संख्या में अनुमति नहीं है.”

अभी नहीं हुआ है यात्रा की तारीखों का ऐलान

अमरनाथ यात्रा को लाइव दिखाने का प्रस्ताव ऐसे समय में आया है, जब इस साल कोरोना महामारी के चलते यात्रा को एक छोटे संस्करण में तब्दील करने की चर्चा चल रही है. हालांकि, अभी यात्रा की तारीखों की आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है. सूत्रों के मुताबिक, इस साल अमरनाथ यात्रा 21 जुलाई से अगस्त के पहले हफ्ते तक होगी.

Related posts

Leave a Comment