टिकटॉक सहित 59 चीनी ऐप्स पर पाबंदी के पीछे चीन का 2017 का खतरनाक कानून.

नई दिल्लीः– भारत सरकार ने टिकटॉक सहित 59 चीनी ऐप्स पर पाबंदी लगा दी है। बैन होने वाले अन्य चीनी ऐप्स में यूसी ब्राउज़र, फैशन वेंडर शाइन, कैम स्कैनर, शेयर इट और बाइडु मैप्स जैसे प्रसिद्ध ऐप्स भी हैं।यह निर्णय भारतीय साइबरस्पेस की सुरक्षा और संप्रभुता सुनिश्चित करने के लिए एक सोचा समझा कदम है। दरअसल जुलाई 2017 में चीन की सरकार ने नैशनल इंटेलिजेंस लॉ पास किया। इसके तहत सरकार के खुफिया कार्यों में चीन के लोगों और संस्थाओं के सहयोग को अनिवार्य कर दिया गया है।  इस कानून के आर्टिकल 7 के मुताबिक सभी संगठन एवं नागरिक राष्ट्रीय खुफिया कार्य का समर्थन करेंगे और इसमें सहयोग करेंगे। आर्टिकल 9 कहता है कि चीनी सरकार उन लोगों और संस्थाओं को सम्मान और ईनाम देगी जो चीन के खुफिया कार्यों में महत्वपूर्ण योगदान देंगे। तब से चीनी फोन, चीनी ऐप्स और अन्य चीनी वस्तुओं के जरिए ये कंपनियां दूसरे देशों की नागरिक की निजी जानकारियां चीनी सरकार तक पहुंचा रही हैं। भारत सरकार के मुताबिक इन चीनी ऐप्स से देश की सम्प्रुभता, अखंडता और कानून व्यवस्था को खतरा था। यह कदम करोड़ों भारतीय मोबाइल और इंटरनेट उपयोगकर्ताओं के हितों की रक्षा करेगा।

Related posts

Leave a Comment