सीबीएसई बोर्ड ने स्कूलों से कहा है कि वे 9वीं और 11वीं के उन स्टूडेंट्स के लिए इंप्रूवमेंट परीक्षाएं आयोजित करें जो इस बार फेल हो गए हैं. उन्हें एक और मौका दिया जाना चाहिए.

CBSE Board Asks Schools To Conduct Class 9th & 11th Improvement Exams 2020: सीबीएसई बोर्ड ने स्कूलों से आग्रह किया है कि वे क्लास 9वीं और 11वीं के फेल बच्चों के लिए इंम्प्रूवमेंट परीक्षाएं आयोजित करें. हालांकि इस बाबत पहला और इनीशियल नोटिस सीबीएसई ने 13 मई को ही रिलीज़ कर दिया था पर बोर्ड को खबर मिली कि बहुत से स्कूल इस प्रक्रिया को फॉलो नहीं कर रहे हैं. खासकर इन स्कूल्स के लिए बोर्ड ने फिर से अपनी बात दोहरायी है और यह भी कहा है कि हाइकोर्ट में जो केस चल रहा है उसका इस फैसले से कोई लेना-देना नहीं है. वे पूर्व की भांति क्लास 9वीं और 11वीं के फेल बच्चों को अपना रिजल्ट सुधारने का एक और मौका दे सकते हैं.

ऑनलाइन या ऑफलाइन, कैसे भी कराएं परीक्षा –

नौंवी और ग्यारहवीं के स्टूडेंट्स के लिए इंप्रूवमेंट एग्जाम कंडक्ट कराने के निर्देश के अलावा बोर्ड ने यह भी कहा है कि स्कूल यह परीक्षाएं ऑनलाइन या ऑफलाइन कैसे भी कंडक्ट करा सकते हैं. इस बारे में अंतिम निर्णय स्कूल का होगा. यहां तक की अगर वे इन दोंनो तरीकों के अलावा भी किसी तरीके जैसे प्रोजेक्ट, असाइनमेंट्स आदि के आधार पर स्टूडेंट्स को जज करना चाहते हैं, तो वे ऐसा भी कर सकते हैं. कुल मिलाकर यह इंप्रूवमेंट एग्जाम कैसे कंडक्ट कराना है, ये स्कूल के ऊपर है. जैसे वहां के स्टूडेंट्स और स्कूल को आसानी हो, वैसा फैसला स्कूल ले सकता है. इस नये स्कोर के आधार पर स्टूडेंट्स को अगली कक्षा में प्रमोट किया जा सकता है. बोर्ड ने यह भी कहा कि परीक्षाएं कंडक्ट कराने से काफी पहले स्टूडेंट्स को इस बारे में सूचित कर दिया जाए ताकि वे अच्छे से तैयारी कर सकें.

Jalandhar News

Happy Independence day

Congratulations To Amandeep Kaur D/A Onkar Nawanshahr For Passed in BALLB with 85% Marks

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *