जालंधर-डिप्टी कमिशनर जालंधर घनश्याम थोरी ने कहा कि जिले के सरबपक्खी विकास को यकीनी बनाने के लिए 125 करोड़ रुपए के विकास कार्य जल्द शुरू किये जा रहे हैं। क्योंकि दूसरे पड़ाव के अंतर्गत पंजाब शहरी वातावरण सुधार प्रोगराम अधीन टैंडर जारी किये जा चुके हैं।उन्होनें कहा कि’मिशन फतेह’के अंतर्गत स्मार्ट विलेज मुहिम अधीन दूसरे पढाव दौरान 150 करोड़ रुपए से ज़्यादा के विकास कामों के साथ जिले के 961 गाँवों को नया रूप देने के लिए विकास कार्य जल्द शुरू किये जा रहे हैं।  कोविड -19 महामारी दौराऩ राज्य को फिर रास्ते पर लाने के लिए’मिशन फतेह’के हिस्के तौर पर पंजाब शहरी वातावरण सुधार प्रोग्राम और स्मार्ट विलेज मुहिम अधीन किये जाने वाले विकास कामों सम्बन्धित विचार विमर्श करने के लिए मीटिंग की अध्यक्षता करते हुए डिप्टी कमिशनर ने कहा कि दूसरे पड़ाव के अंतर्गत पंजाब शहरी वातावरण सुधार प्रोग्राम अधीन 125 करोड़ के विकास कामों के टैंडर जिस में 90 करोड़ नगर निगम और 35 करोड़ रुपए के म्यूंसिपल समितियों के विकास कार्य शामिल हैं।  श्री थोरी ने उप मंडल मैजिस्टरेटों को कहा कि इन योजनाओं के अधीन किये जाने वाले कामों को जल्दी शुरू करके निर्धारित समय पर पूरा करने को यकीनी बनाया जाये। उन्होनें कहा कि यह समय की ज़रूरत है कि राज्य के सरबपक्खी विकास को बढावा दिया जाये। उन्होनें कहा कि इस फंड से जिले के शहरी क्षेत्रों को विकास के पक्ष से नया रूप प्रदान किया जायेगा। श्री थोरी ने कहा कि इन योजनाओं का मुख्य मंतव्य शहरी क्षेत्रों के सरबपक्खी विकास को यकीनी बनाना है। उन्होनें आधिकारियों को हिदायत की कि इन योजनाओं के अधीन चल रहे विकास कार्य को निर्धारित समय पर पूरा करने को यकीनी बनाया जाये। उन्होनें कहा कि इन विकास प्रोजेक्टों के पूरा होने में किसी प्रकार की देरी नहीं होनी चाहिए। उन्होनें ग्रामीण विकास और पंचायत विभाग के आधिकारियों को कहा कि स्मार्ट विलेज मुहिम के अंतर्गत शुरू किये गए सभी कामों को जल्द पूरा किया जाये।इस अवसर पर अतिरिक्त डिप्टी कमिशनर विशेष सारंगल, उप मंडल मैजिस्ट्रेट राहुल सिंधू, गौतम जैन, जय इन्द्र सिंह, विनीत कुमार, जिला विकास और पंचायत अधिकारी इकबालजीत सिंह और भी उपस्थित थे।  

Stock Market Updates

Jalandhar News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *