अमरनाथ यात्रा 23 जून से शुरू होने वाली थी लेकिन कोरोना के लॉकडाउन के चलते अभी तक शुरू नहीं हो सकी. इसी को देखते हुए उप राज्यपाल बैठक कर हालात की समीक्षा कर अंतिम निर्णय लेंगे.

श्रीनगर: इस साल अमरनाथ यात्रा होगी या नहीं इसे लेकर आज शाम तक फैसला हो सकता है. जम्मू कश्मीर के उप राज्यपाल ने दोपहर तीन बजे इस मुद्दे पर बैठक बुलाई है. इस साल की अमरनाथ यात्रा के लिए तैयारियां बहुत दिनों से पूरी हो चुकी हैं अब सबकी नजरें उपराज्यपाल की बैठक पर लगी हैं.

इस साल की अमरनाथ यात्रा 23 जून से शुरू होने वाली थी लेकिन कोरोना के लॉकडाउन के चलते अभी तक शुरू नहीं हो सकी है. जम्मू कश्मीर के उप राज्यपाल अमरनाथ श्राइन बोर्ड के अध्यक्ष के तौर पर आज बैठक कर सभी सरकारी विभागों और सुरक्षा एजेंसियों से बैठक कर हालात की समीक्षा कर अंतिम निर्णय लेंगे.

वहीं फैसला होने से पहले ही यात्रा के लिए आने वाले श्रद्धालुओं के लिए तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं. हर साल लगने वाले लंगरों में काफी ज्यादा कमी है लेकिन जो लंगर लगे है वहां पर कोरोना से लड़ने के लिए सभी प्रावधान रखे गए है और अब इंतजार है यात्रा पर आने वालों का.

इससे पहले जून में श्राइन बोर्ड ने केवल बालटाल के रास्ते से यात्रा के संचालन का फैसला किया था और पारंपरिक पहलगाम के रास्ते तैयारी पूरी ना होने के कारण यात्रा को स्थगित रखने का फैसला लिया था. बता दें कि यात्रियों के लिए कोविड अस्पताल का भी निर्माण किया गया है.

वहीं डोगरा समाज के लोगों का कहना है कि अगर यात्रा को इजाजत दी जाती है तो कोरोना को देखते हुए सभी तरह के उपाय लागू किए जाएं. स्थानीय लोगों का कहना है कि ऐसा ना हो लोग यात्रा के लिए आएं और यहां क्वारन्टीन हो जाएं. हम ऐसा नहीं चाहते हैं.

Stock Market Updates

Jalandhar News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *