मौसम विभाग ने कहा कि दिल्ली में दो दिन बाद आंशिक बादल छाने के साथ साथ हल्की बारिश होने की संभावना है.

तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक और केरल में भारी से बहुत भारी बारिश का अनुमान जताया है.

नई दिल्लीभारतीय मौसम विभाग (IMD) ने अगले चार-पांच दिनों के दौरान तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक और केरल में भारी से बहुत भारी बारिश का अनुमान जताया है. वहीं राजधानी दिल्ली और उसके आस पास के इलाकों में बूंदाबांदी हो सकती हैं. इन इलाकों में फिलहाल गर्मी से थोड़ी राहत मिलने के आसार हैं.

बाकी राज्यों का हाल

उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम और पूर्वोत्तर भारत में कई जगहों पर मध्यम से भारी बारिश हो सकती है. विदर्भ, मराठवाड़ा, तेलंगाना और दक्षिणी तटीय आंध्र प्रदेश के भी कुछ हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश के आसार हैं. पूर्वी बिहार, तमिलनाडु, उत्तरी आंतरिक और तटीय कर्नाटक, दक्षिणी कोंकण गोवा और अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ हिस्सों में मूसलाधार वर्षा हो सकती है.

केरल, दक्षिणी-आंतरिक कर्नाटक, रायलसीमा, मध्य महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, पूर्वी उत्तर प्रदेश, शेष बिहार, गंगीय पश्चिम बंगाल में हल्की से मध्यम बारिश का अनुमान है. छत्तीसगढ़, ओडिशा, दक्षिण-पूर्वी राजस्थान, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और लक्षद्वीप में एक-दो स्थानों पर हल्की बारिश की संभावना है


चार महीने का रेनी सीजन लगभग 80 प्रतिशत समाप्त

मौसम विभाग ने कहा कि दिल्ली में दो दिन बाद आंशिक बादल छाने के साथ साथ हल्की बारिश होने की संभावना है. मौसम ब्यूरो ने अगले दो दिनों के लिए ‘ग्रीन’ और बाद वाले दो के लिए ‘यलो’ अलर्ट जारी किया है. आईएमडी में चार कलर-कोडेड अलर्ट होते हैं, जिनमे ग्रीन, यलो, ऑरेंज और रेड अलर्ट शामिल हैं। ‘ग्रीन’ अलर्ट का मतलब कोई चेतावनी नहीं है, जबकि ‘यलो’ अलर्ट का मतलब ‘अवेयर’ रहना है.

निजी पूवार्नुमान एजेंसी स्काईमेट वेदर ने कहा, “चार महीने का रेनी सीजन लगभग 80 प्रतिशत समाप्त हो चुका है. इस दौरान देश में अब तक 800 मिमी बारिश हुई है, जो एलपीए का 9 प्रतिशत सरप्लस है.” इस बीच, दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक ‘मध्यम’ श्रेणी में है.

Stock Market Updates

Jalandhar News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *