सोनीपत : हरियाणा में सोनीपत के गांव रोहतास में रविवार शाम आंधी और बूंदाबांदी के चलते पशु डेयरी की दीवार और छत गिरने से दो लोगों की मौत हो गई और एक घायल हो गया। इसके अलावा डेयरी में बंधे छह पशुओं की मौके पर मौत हो गई जबकि 24 अन्य घायल हो गए। मिली जानकारी के अनुसार झज्जर के गांव रोहद निवासी दीपक और उसके भतीजे प्रशांत ने गांव रोहणा में पशु डेयरी खोल रखी है। उन्होंने करीब 30 पशु रखे हुए थे। रविवार शाम अचानक तेज हवाओं के साथ बूंदबांदी शुरू हो गई। इसी दौरान खेतों की तरफ गए गांव रोहणा का नंबर जयप्रकाश (53), मोनू (34) और रोहणा निवासी अमलेश मुखिया (32) बूंदाबांदी व आंधी से बचने के लिए दौड़ते हुए डेयरी में आ गए। उनके डेयरी में आने के कुछ देर बाद ही अचानक डेयरी की छत और दीवार  तेज धमाके के साथ नीचे आ गिरी। जिसमें तीनों लोगों के साथ ही डेयरी में बंधे पशु भी दब गए। डेयरी मालिक प्रशांत और अन्य कर्मियों ने शोर मचाया। जिससे लोग डेयरी की तरफ दौड़े और मलबे को हटाकर घायलों को अस्पताल में पहुंचाया। खरखौदा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में जय प्रकाश और अमलेश मुखिया को जांच के बाद चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया। मोनू को इलाज के लिए निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।खरखौदा के थाना प्रभारी बिजेंद्र कुमार ने कहा कि गांव रोहणा में पशु डेयरी की दीवार गिरने से दो लोगों की मौत की सूचना मिली थी। शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सामान्य अस्पताल सोनीपत भिजवा दिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

Stock Market Updates

Jalandhar News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *