जालंधरः- पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप घोटाले को लेकर डाक्टर अंबेडकर विचार मंच द्वारा शुरु भूखहड़ताल सातवें दिन में दाखिल हो गई, सातवें दिन की भूखहड़ताल में एकनूर वैलफेयर सोसायटी के पदाधिकारी धरने पर बैठे। सोसायटी  ने अध्यक्ष प्रदीप खुल्लर की अगुवाई में सुरजीत सिंह भुल्लर, फकीर सिंह, तिलक राज भगत, दीपक सिंह राठौर, नवीन भोला आदि ने भूखहड़ताल रख कर घोटाले के खिलाफ रोष जाहिर किया। इस मौके सोसायटी के अध्यक्ष प्रदीप खुल्लर ने कहा कि पंजाब में कैप्टन अमरेंदर सिंह की अगुवाई में जब से कांग्रेस सरकार बनी है दलितो पर अत्याचार बढ़े है तथा सरकार की कार्यवाही शुन्य के बराबर है। उन्होंने कहा कि पहले जहरीली शराब कांड में कई दलितों की मौत हुई, फिर एक दलित को प्रताडि़त करते हुए पेशाब पिलाया गया, एक को तेजाब पीने को मजबूर किया गया। उसके बाद यह स्कालरशिप घोटाला हो गया। जिसमें पंजाब सरकार की आईएएस अधिकारी ने ही खुलासा किया कि करोड़ो रुपए का घोटाला किया गया,जिसमें मंत्री सहित कई लोग शामिल है, पर अफसोस पंजाब सरकार ने घोटाले के दोषियों को सजा दिलाने की बजाय उनको बनी बनाई कलीन चिट सौंप कर मामले में बरी कर दिया। राजन अंगुराल ने कहा कि  मंच की ओर से 5 दिसंबर 2020 तक यह रोष पूर्वक भूखहड़ताल जारी रहेगी। जिसमें अलग-अलग संस्थाएं सहयोग कर रही है। शाम को भूखहड़ताल के स्थान पर श्री गुरु रविदास मंदिर प्रबंधक कमेटी मकसूद ऐरिया के पदाधिकारी व अंबेडकराईटस लीगल फोर्म के अध्यक्ष एडवोकेट प्रितपाल सिंह एडवोकेट साथियों पहुंचे तो हड़तालियों को जूस पिला कर उनकी भूख हड़ताल खुलवाई व समर्थन का विश्वास दिलाया। 

Jalandhar News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *