जालंधर(विनोद बिंटा)- महानगर में पुलिस मुलाजिमों के होंसले पत्रकारों के खिलाफ बुलंद हो रहे है। वह पत्रकारों से दुर्व्यवहार करने से बाज नही आ रहे है। कही न कही यह मामले सामने आते ही रहते है।पुलिस प्रशासन पत्रकारों के साथ ऐसा व्यवहार करता है, जो मामले कही न कहीं जनता के सामने आ जाते है। पुलिस मुलाजिम आम जनता के साथ किस तरह का व्यवहार करती होगी, जो कि सामने भी कम ही आते है। आज दैनिक भास्कर के पत्रकार सुरिंदर कुमार को उस समय पुलिस मुलाजिमों का रवैय्या भुगतना पड़ा। जब वह डयूटी के दौरान दोआबा चौंक की तरफ से गुजर रहा था। दो पीसीआर मुलाजिमों ने बिना वजह कोई भी बात सुने बिना उसे डंडा मार दिया। जिस कारण वह बीच सड़क में गिर कर घायल हो गया। पत्रकार सुरिंदर कुमार ने बताया कि वह डयूटी के दौरान दोआबा चौंक की तरफ से जा रहा था न ही किसी पुलिस मुलाजिम ने उसे रोकने का इशारा दिया, बिना बात सुने ही उस पर डंडे से परहार कर दिया। हालांकि उसके पास गाड़ी के दस्तावेज पूरे थे, उसने ट्रैफिक नियमों का किसी भी तरह का उल्लघन नही किया था। इस बारे पत्रकार भाईचारे को सूचित किया गया। प्रिंट एंड इलैक्ट्रोनिक मीडिया के प्रधान जो कि हमेशा पत्रकार भाईचारे का होंसला बढ़ाते है। वह और मनदीप शर्मा मौके पर पहुंचे। घायल पत्रकार को इलाज के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया। प्रधान सुरिदंर पाल ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि बिना वजह दो पीसीआर मुलाजिम ए.एसआई सीता राम और ए.एसआई दलजिंदर सिंह ने दैनिक भास्कर के पत्रकार को बिना वजह डंडा मार दिया, जिस कारण वह घायल हुआ।इस बारे पुलिस उच्चाधिकारियों से बात की गई तो उन्होंने ए.एस.आई सीता राम, ए.एस.आई दलजिंदर सिंह जो कि दोआबा चौंक 6 नंबर मोटरसाइकिल पर तैनात थे, उन्हें सस्पैंड कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *