जालंधर(विनोद बिंटा)- पंजाब सरकार द्वारा ठेके खोलने के आदेश जैसे ही जारी हुए और उसमें सबसे बड़ी बात होम डिलीवरी की जब आई तो महिलाओं ने पंजाब सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए बयान जारी करने शुरू कर दिए हैं महिलाएं इस बात को लेकर परेशान है कि 2 महीने के करीब होने को आ रहे हैं लोग घरों में फंसे हुए हैं कामकाज हर तरफ ठप पड़े हुए हैं लेकिन उनके घरों में जो पूंजी थोड़ी बची बची है अब उनके पति शराब में उजाड़ देंगे ठेके बंद होने के कारण पुरुषों की मजबूरी बनी हुई थी कि शराब नहीं मिल रही है जिस कारण वह शराब का सेवन नहीं कर रहे हैं लेकिन अब सरकार द्वारा जो ठेके खोल दिए गए हैं उन पर भी सवाल उठने शुरू हो गए स्कूल कालजो की बात करें तो वह भी अभी बंद पड़े हैं और ना ही इस तरफ अभी तक सरकार की तरफ से कोई बयानबाजी जारी हुई है और ना ही इस तरफ किसी का ध्यान दिया गया है बच्चों की पढ़ाई भी प्रभावित हो रही है लेकिन सरकार में इस तरफ अभी तक कोई भी निर्णय नहीं लिया है वहीं लोगों में इस बात की भी चर्चा फैली हुई है कि पंजाब में नशा मुक्त करने वाली सरकार जो कि हर वक्त पंजाब में नशा मुक्त करने का दावा करती हुई नजर आती थी लेकिन इन दिनों में सबसे पहले नशे को ही बढ़ावा दिया गया है सरकार की तरफ से पंजाब में ठेके खोलने की अनुमति दे दी है लेकिन शहरों में जिन इलाकों में डीसी ने कंटेनमेंट जोन इलाके घोषित किए हैं उन इलाकों में ना तो शराब की होम डिलीवरी जाएगी और ना ही उन इलाकों के आसपास के जो ठेके हैं वह खुलेंगे

Stock Market Updates

Jalandhar News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *