नई दिल्लीः-विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कुछ देशों द्वारा कोरोना वायरस से बचाव के लिए अपनाए जा रहे तरीकों को लेकर कहा है कि सड़कों पर कीटनाशकों का छिड़काव करने से कोरोना वायरस नहीं मरता है बल्कि यह स्वास्थ्य के लिए खतरनाक हो सकता है। क्योंकि धूल और कचरे में ये निष्प्रभावी हो जाते हैं। सूत्रों के मुताबिक व्यक्तियों की मौजूदगी में कीटाणुनाशक छिड़कना किसी भी परिस्थिति में उचित नहीं है। यह शारीरिक और मनोवैज्ञानिक रूप से हानिकारक हो सकता है और यह छिड़काव किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने या उसके द्वारा निकलने वाली बूंदों के माध्यम से वायरस फैलाने की क्षमता को कम नहीं करेगा। WHO ने कोरोना वायरस को सतह पर निष्प्रभावी बनाने के लिए सफाई पर आधारित एक दस्तावेज में दावा किया है कि कीटनाशक का छिड़काव निष्प्रभावी हो सकता है। WHO ने कहा कि बाहर के खुले हिस्सों जैसे सड़कों या मार्केट एरिया में कोविड-19 या अन्य जानलेवा कीटाणुओं को मारने के लिए कीटनाशक के छिड़काव की सलाह नहीं दी गई है।

Stock Market Updates

Jalandhar News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *