जालंधर(विनोद बिंटा) प्रदेश भाजपा प्रवक्ता मोहिन्दर भगत ने कहा कि कर्फ्यू के दौरान जो बिजली के भारी भरकम बिल उपभोक्ताओं को जारी किए गए हैं, उन सबको पंजाब सरकार माफ करें क्योंकि कोविड-19 के दौरान पंजाब भर में करीब डेढ़ महीने से अधिक का समय कर्फ्यू लगा रहा है। जिस दौरान हर वर्ग के लोगों की आमदन का कोई भी साधन ना रह पाने के कारण लोगों को दो वक्त की रोटी भी जुटा पाना मुश्किल हो रहा है। इस दौरान बिजली निगम द्वारा निरंतर बिजली के बिल भेजे जा रहे हैं। जिन बिलों को चुका पाने में लोग बिल्कुल असमर्थ हो गए हैं। पंजाब सरकार को चाहिए कि सभी बिजली के बिलों को माफ किया जाए क्योंकि लॉकडाउन के रहते सब लोगों की कमर टूट चुकी है। दुकानें बंद रहने से कमाई का कोई साधन नहीं ओर कई दफ्तरों में तो सेलेरी भी नहीं मिल रही । ऊपर से बिजली विभाग ने बिजली के बिल भेज दिए हैँ जो कि भरवाने ऐसी हालत में बहुत ही मुश्किलहै। इस समय सरकार को बिजली के बिल माफ करने चाहिए।दूसरी तरफ भगत ने कहा कि सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में पढ़ रहे सभी छात्रों की फीस पूरी तरह माफ करनी चाहिए। पूर्ण तालाबंदी और कर्फ्यू के चलते सभी स्कूलों को भी बंद कर दिया गया था और सभी प्रमुख छोटे, मध्यम और बड़े व्यवसायों को भी बंद कर दिया गया था। इससे समाज के सभी वर्गों की आजीविका भी प्रभावित हुई है । भगत ने कहा कि गरीब और मध्य वर्ग के लोगों को बड़ी चोट लगी है। इन लोगो को अपने परिवारों के लिए दो वक्त के भोजन की व्यवस्था करनी भी मुश्किल हो रही है। ऐसे में अगर उन्हें स्कूल फीस का भुगतान करना पड़ता है तो वो एक अतिरिक्त भार को सहन नहीं कर पाएंगे। इस वजह से पंजाब के शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला को चाहिए कि बच्चों की फीस माफ करने के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों को आदेश जारी करें ।

Stock Market Updates

Jalandhar News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *