कहा, नेगेटिव टैस्ट वाले यात्रियों को सख़्ती से सात दिनों के लिए घर में एकांतवास और पॉजिटिव मरीज़ों को स्वास्थ्य संस्थाओं में रैफर किया जाएगा

जालंधर, 22 दिसंबर डिप्टी कमिश्नर जालंधर घनश्याम थोरी ने आधिकारियों को निर्देश दिये कि यू.के. में कोरोना वायरस नये स्ट्रेन के सामने आने पर यू.के. से आने वाले यात्रियों का आर.टी. -पी.सी.आर. टैस्ट लाज़िमी तौर पर किया जाए।डिप्टी कमिश्नर ने आधिकारियों को बताया कि ज़िला प्रशासन को सचिव नेशनल हैल्थ मिशन राजेश भूषण की तरफ से स्वास्थ्य सम्बन्धित सलाह प्राप्त हुई हैं, जिस में वायरस को फैलने से रोकने के लिए ज़रूरी उपायों के बारे अवगत करवाया गया है।उन्होने बताया कि इन कदमों में यूनाइटेड किंगडम से लौटे यात्रियों का आर.टी. -पी.सी.आर.टैस्ट किया जाना लाज़िमी है। उन्होंने यह भी कहा कि जो यात्री पॉजिटिव पाया जाता है उसे इलाज के लिए स्वास्थ्य संस्थाओं में भेजा जाये। उन्होंने यह भी कहा कि जो यात्री नेगेटिव पाये जायेंगे, उनको सख़्ती के साथघरों में सात दिनों के लिए एकांतवास में रखा जाये जिससे वायरस को फैलने से रोका जा सके।डिप्टी कमिश्नर ने आधिकारियों को आगे बताया कि घरों में एकांतवास किये गए ऐसे मरीज़ों की स्वास्थ्य की निगरानी के लिए व्यापक योजना बनाई जाये और ऐसे व्यक्तियों के आर.टी. -पी.सी.आर.टैस्ट को एक अंतराल के बाद विश्वसनीय बनाया जाये। डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि घरों में एकांतवास किये गए व्यक्तियों में यदि वायरस सम्बन्धित कोई लक्षण दिखाई देते हैं तो तुरंत उच्च अथारटी को सूचित किया जाये। उन्होने कहा कि इसमें किसी प्रकार की लापरवाही को सहन नहीं किया जायेगा और दोषी पाये गए मुलाजिमों के विरूध सख़्त कार्यवाही अमल में लाई जायेगी।

Crime News

Jalandhar News

नशा मुद्दा- भार्गव कैंप में इस युवक ने किस किस को डाला परेशानी में देखें, Share Video

बस्ती दानिशमंदा श्मशान घाट में तोड़ा पुराना शिव मंदिर विरोध दल बल के साथ पहुंची पुलिस ( Share VIdeo )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *