भंडारा : भंडारा के जिला सिविल अस्पताल के चिल्ड्रेन वार्ड में शनिवार को तड़के आग लगने के कारण करीब 10 नवजातों की मौत की जानकारी सामने आई है। इस दौरान 17 शिशुओं में से केवल 7 को बचाया जा सका। आगजनी की यह घटना देर रात करीब 2 बजे हुई है। ड्यूटी पर मौजूद नर्स को वॉर्ड में आग की जानकारी सबसे पहले लगी। उसने तुरंत अधिकारियों को मामले की जानकारी दी। भंडारा के सिविल सर्जन प्रमोद खांडेटे ने कहा कि 2 बजे भंडारा डिस्ट्रिक्ट जनरल अस्पताल में आग लगने से 10 बच्चों की मौत हो गई। इस यूनिट से 7 लोगों को बचा लिया गया है।मिली जानकारी के अनुसार अस्पताल में आग शॉर्ट सर्किट की वजह से लगी। अस्पताल के आउट बॉर्न यूनिट से धुंआ उठता देख नर्स ने जब दरवाजा खोल कर देखा वहा बड़े पैमाने पर धुंआ और आग लगी हुई थी। इसके बाद तुरंत राहत और बचाव कार्य शुरू किया गया।दिल दहला देने वाली घटना पर कड़ा संज्ञान लेते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आग लगने के कारणों की जांच का आदेश दिया है। इस घटना पर नाराजगी व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे और जिला अधिकारियों से इस मामले पर चर्चा की और कहा कि जो भी जिम्मेदार पाए जाते हैं उन्हें कड़ी सजा दी जानी चाहिए। 

Crime News

Jalandhar News

नशा मुद्दा- भार्गव कैंप में इस युवक ने किस किस को डाला परेशानी में देखें, Share Video

बस्ती दानिशमंदा श्मशान घाट में तोड़ा पुराना शिव मंदिर विरोध दल बल के साथ पहुंची पुलिस ( Share VIdeo )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *