जालंधरः- प्रदेश भाजपा प्रवक्ता मोहिन्दर भगत ने कहा कि जालंधर वैस्ट के अंतर्गत वरियाणा डंप को स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत शहर से बाहर निकाला जाए ताजो डंप के कारण आसपास के करीब सवा लाख लोग प्रभावित हैं। उन्हें इस समस्या से निजात मिल सके। बस्ती बावा खेल, राज नगर, वरियाणा, गौतम नगर, जालंधर कुंज, जालंधर प्राइम, जालंधर विहार, नंदनपुर रोड के इलाके समेत 30 से ज्यादा कॉलोनियों के लोग परेशान हैं। कूड़े में आग के कारण जहरीले धुएं में सांस लेना मुश्किल हो जाता है। पीने वाला पानी दूषित हो गया है जिस कारण लोग बीमार पड रहे हैं। कूड़ा फेंकने वाले वाहन टिप्परों में बिना ढंके कूड़ा लाते हैं और सड़कों पर फेंकते हुए निकल जाते हैं। दूसरी ओर मोहिंदर भगत ने कहा कि मोदी सरकार की स्मार्ट सिटी योजना के तहत जालंधर वैस्ट का विकास हो रहा है, जिसके लिए हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त करते हैं। केंद्र सरकार के केंद्रीय आवास एवं शहरी विकास मंत्रालय के स्मार्ट सिटी मिशन के तहत चयनित किए गए शहरों में जो विकास कार्य चल रहे हैं, उसके लिए करोड़ों रुपए फंड भी केंद्र सरकार ही भेज रही है।प्रोजेक्टो के पूरा होने से शहरों की कई समस्याएं खत्म हो जाएंगी। शहरों के चौकों का सुंदरीकरण, स्मार्ट रोड, सड़कों और साइकलिंग ट्रैक, फुटपाथ शहरों में तैयार हो रहे है। अगर मोदी सरकार का स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट ना होता तो पंजाब की कांग्रेस सरकार पंजाब का विकास ना कर पाती। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार इसका श्रेय ले रही है और विधायक छाती ठोकर बता रहे हैं कि यह उनकी मेहनत का नतीजा है, असलियत यह है कि जो जालंधर शहर में विकास कार्य चल रहे हैं उसमें कांग्रेसियों का कोई रोल नहीं है। सभी फंड केंद्र की मोदी सरकार की योजनाओं के है। इस अवसर पर पार्षद वीरेश मिंटू, मदनलाल, मोहिन्दर पाल, सिकंदर भगत मौजूद थे।

Crime News

Jalandhar News

नशा मुद्दा- भार्गव कैंप में इस युवक ने किस किस को डाला परेशानी में देखें, Share Video

बस्ती दानिशमंदा श्मशान घाट में तोड़ा पुराना शिव मंदिर विरोध दल बल के साथ पहुंची पुलिस ( Share VIdeo )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *