बाग़बानी विभाग की तरफ से करवाया गया मधुमक्खी पालन कोर्स…

जालंधर – पंजाब सरकार द्वारा राज्य के किसानों की खेती आमदन को बढा कर उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार लाने की वचनबद्धता के अंतर्गत डिप्टी कमिश्नर जालंधर घनश्याम थोरी के नेतृत्व में ज़िला प्रशासन की तरफ से अलग -अलग विभागों के द्वारा विशेष प्रयत्न किये जा रहे हैं और इस क्रम मे कृषि विज्ञान केंद्र और फार्म सलाहकार केंद्र जालंधर की तरफ से बाग़बानी विभाग के सहयोग से 11 से 19 जनवरी तक मधुमक्खी पालन प्रशिक्षण कोरस करवाया गया। बाग़बानी विभाग द्वारा मधुमक्खी पालन कोर्स के आज समाप्ति पर शिक्षार्थीयो के साथ रूबरू होते सहायक डायरैक्टर बाग़बानी जालंधर डा.भजन सिंह सैनी ने बताया कि डिप्टी कमिश्नर जालंधर घनश्याम थोरी के नेतृत्व में बाग़बानी विभाग की तरफ से किसानों को खेती आमदन बढ़ाने के लिए कृषि के सहायक धंधो को भी अपनाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। कृषि से जुड़े सहायक धंधो को अपनाने से जहाँ किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा,साथ ही राज्य और देश की ख़ुशहाली में नई ऊँचाईयों को हासिल किया जा सकेगा। उन्होनें शिक्षार्थियों को नैशनल बी -बोर्ड के साथ रजिस्टर्ड हो कर अलग -अलग योजनाओं से वित्तीय लाभ लेने के बारे में भी प्रेरित किया। उन्होनें किसानों को न्योता दिया कि पंजाब सरकार की तरफ से कृषि को लाभदायक बनाने के लिए करवाए जाते अलग -अलग प्रशिक्षण पाठ्यक्रमों का अधिक से अधिक लाभ उठाया जाये। सहायक डायरैक्टर बाग़बानी ने आगे बताया कि मधुमक्खी पालन पाठ्यक्रम दौरान डा.संजीव कुमार कटारिया और डा.रीतू राज की तरफ से इस धंधो की शुरुआत के लिए अपेक्षित समान, अलग -अलग मौसमों में मधु मक्खियों की संभाल, मधुमक्खी पालन से होने वाले लाभ और उससे तैयार होने वाली वस्तुओं के बारे में विस्तार से जानकारी उपलब्ध करवाई गई। समाप्ति समारोह अवसर पर डा. सुखदीप सिंह हुन्दल सहायक डायरैक्टर बाग़बानी जालंधर की तरफ से एन.एच.एम. अधीन बाग़बानी की तरफ से इस पेशे अधीन दी जाने वाली सुविधाओं से सम्बन्धित विस्थारपूरवक जानकारी दी गई। इस अवसर पर डा. प्रितपाल सिंह बाठ बाग़बानी विकास अधिकारी की तरफ से आए हुए माहिरों और शिक्षार्थीयों का धन्यवाद किया गया। इस अवसर पर शिक्षार्थीयों के बीच मधुमक्खी पालन से सम्बन्धित साहित्य भी बांटा गया।इस अवसर पर शिक्षार्थी मनीष पाल, सुखदेव सिंह और विजय कुमार की तरफ से इस प्रशिक्षण प्रोग्राम के लिए भरपूर प्रशंसा की गई, साथ ही कहा कि ये प्रशिक्षण प्रोग्राम उनकी खेती आमदन को बढ़ाने के लिए बहुत सहायक सिद्ध होगा। उन्होनें मधुमक्खी पालकों का समूह बना कर इस धंधो की शुरुआत करने का वायदा भी किया गया।

Crime News

Jalandhar News

नशा मुद्दा- भार्गव कैंप में इस युवक ने किस किस को डाला परेशानी में देखें, Share Video

बस्ती दानिशमंदा श्मशान घाट में तोड़ा पुराना शिव मंदिर विरोध दल बल के साथ पहुंची पुलिस ( Share VIdeo )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *