जालंधर– ज़िले के सरकारी दफ़्तरों में आने वाले लोगों को कोविड वायरस के संक्रमण से बचाने को यकीनी बनाने के लिए डिप्टी कमिश्नर ने आदेश जारी किये है, कि जिन सरकारी कर्मचारियों ने अभी तक कोविड वैक्सीन नहीं लगवाई उनको पब्लिक डीलिंग की सीटों से बदला जाये। डिप्टी कमिश्नर जालंधर ने बताया कि यह फ़ैसला मुख्य सचिव विन्नी महाजन की अध्यक्षता में हुई राज्य स्तरीय वर्चुअल बैठक दौरान लिया गया है। उन्होनें बताया कि वही कर्मचारियों को पब्लिक सीटों पर काम करने के लिए रहने दिया जाये, जिन्होंने कोविड वैक्सीन लगवा लिए है। उन्होनें बताया कि बड़े जनतक हित को देखते में रखते हुए कोविड वायरस की कड़ी को तोड़ने के लिए कोविड वैक्सीन लगे कर्मचारियों को पब्लिक डीलिंग सीटों पर लगाने का फ़ैसला लिया गया है। उन्होनें सभी सरकारी दफ्तरों में काम करते कर्मचारियों को कहा कि पब्लिक डीलिंग वाली सीटों पर काम करते रहने के लिए तुरंत कोविड वैक्सीन लगवाई जाये। उन्होनें आधिकारियों को कहा कि ऐसे कर्मचारियों की सूची बनाई जाये, जिन्होंने अभी तक कोविड वैक्सीन का टीका नहीं लगवाया है। इसी तरह डिप्टी कमिश्नर ने रेस्तरां, बार, होटलों, मैरिज पेलैसों, दावत हाल, सैलून और उद्योगों के मालिकों को कहा कि 45 साल या इससे अधिक आयु के अपने स्टाफ को कोविड वैक्सीन लगाना यकीनी बनाए, क्योंकि सरकार की तरफ से 1 अप्रैल से इस आयु वर्ग के सभी लोगों को कोविड वैक्सीन लगाने की शुरुआत की जा रही है। उन्होनें बताया कि पंजाब सरकार की तरफ से 45 साल से अधिक सभी लोगों को कोविड वैक्सीन लगाने को यकीनी बनाने के लिए सह बीमारी होने की शर्त को हटाया गया है। डिप्टी कमिश्नर ने स्वास्थ्य आधिकारियों को कहा कि ज़िले में मोबायल टीकाकरण अभियान को और मज़बूत करने के इलावा 105 कोविड वैक्सीन लगवाने संबंधी सैशन साईटों को सभी स्वास्थ्य और वैलनैस सैंटरों सहित 300 तक किया जाये। बता दें है कि अब ज़िले में 105 कोविड टीकाकरण सैशन साईटें है, जिनमें 50 सरकारी और 55 प्राईवेट सैंटर है जिनको आने वाले दिनों में 300 तक बढ़ाया जायेगा। डिप्टी कमिश्नर ने आगे बताया कि अब तक 85 प्रतिशत फ्रंट लाईन के कामगारो और 60 प्रतिशत स्वास्थ्य संभाल वरकरों को ज़िले में कोविड वैक्सीन लगाने के इलावा 33845 बुज़ुर्गों और 45 साल के सह बीमारी के लाभपातरियों को कोविड वैक्सीन का टीका लगाया गया है। उन्होनें बताया कि ज़िला प्रशासन की तरफ से अलग -अलग कोविड केयर सेंटरों में स्तर -2 के लिए 957 बैड और स्तर -3 के लिए 350 बैडो का प्रबंध किया जा चुका है। थोरी ने मुख्य सचिव को बताया कि पिछले सात दिनों दौरान 35897 सैंपल रोज़ाना की 5000 की दर के साथ लिए गए है और सैंपल लेने और कोविड वैक्सीन लगाने संबंधी लाभपातरियों को सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए अलग -अलग प्रयत्न किये जा रहे है। उन्होंने यह भी बताया कि कंटेनमैंट और माईक्रो कंटेनमैंट जोनों में 100 प्रतिशत सैंपल लेने के इलावा कर्फ़्यू जैसी सख्ती लागू करने को यकीनी बनाया गया है। इस अवसर पर अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर (विकास) विशेष सारंगल, सिविल सर्जन डा.बलवत सिंह, ज़िला टीकाकरण अधिकारी डा.राकेश चोपड़ा और डिप्टी मैडीकल कमिश्नर डा.जोती और अन्य भी उपस्थित थे।

Jalandhar News

नशा मुद्दा- भार्गव कैंप में इस युवक ने किस किस को डाला परेशानी में देखें, Share Video

बस्ती दानिशमंदा श्मशान घाट में तोड़ा पुराना शिव मंदिर विरोध दल बल के साथ पहुंची पुलिस ( Share VIdeo )

Happy Birthday To Sandeep Kashyap

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *