नई दिल्ली : कोरोना वायरस के बाद देश के कई राज्यों में तेज बुखार का प्रकोप देखने को मिल रहा है। पिछले एक महीने में उत्तर और पूर्वी भारत के पांच राज्यों में तेज बुखार से लगभग 100 लोगों की मौत हो गई है। मध्य प्रदेश में बुखार के 3,000 मामले सामने आए है और इसके कारण 6 संदिग्ध मौते हुई है, जिसके बाद बुखार का कहर झेलने वाला यह एक और नया राज्य बन गया है। इस तरह के रहस्यमयी बुखार का पहला मामला उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले में अगस्त के दूसरे सप्ताह में देखने को मिला था। लेकिन सरकार ने कहा था कि यह डेंगू का मामला है। देश के कई राज्यों में आज-कल बुखार का कहर देखने को मिल रहा है लेकिन इनमें से कुछ राज्यों ने ही कहा है कि इसका कारण साफ नहीं है। मध्य प्रदेश और हरियाणा का कहना है कि तेज बुखार के पीछे का कारण अभी साफ नहीं है इसके अलावा बिहार ने निमोनिया और बंगाल ने इन्फ्लूएंजा को इसके पीछे का कारण बताया है। मध्य प्रदेश: मप्र में पिछले 45 दिनों में छह संदिग्ध मौतों के साथ 3,000 मामले सामने आए हैं। इसमें से 1,400 मामले पिछले दो सप्ताह में सामने आए। सबसे अधिक प्रभावित जिला मंदसौर है, जिसमें 886 मामले दर्ज किए गए, इसके बाद जबलपुर में 436 मामले दर्ज किए गए।

Latest News

भगवान वाल्मीकि जी के दिखाए नैतिकता के मार्ग पर चलने की ज़रूरत : राज कुमार वेरका

जालंधर- भगवान वाल्मीकि जी के प्रगट उत्सव के सम्बन्ध में आज भगवान वाल्मीकि उत्सव समिति की तरफ से धर्मगुरु बाबा प्रगट नाथ के नेतृत्व में भगवान...

ब‌र्ल्टन पार्क के निकट तेज रफ्तार कार चालक ने एक्टिवा को मारी टक्कर, महिला की हालत नाजुक….

जालंधर- दशहरे वाले दिन ब‌र्ल्टन पार्क के निकट तेज रफ्तार कार चालक ने एक्टिवा को टक्कर मार दी। जिस कारण एक्टिवा पर सवार महिला गंभीर रुप से घायल...

दमोरिया पुल के निकट हैरोइन सहित गिरफ्तार….

जालंधर(ब्यूरो)- स्पैशल ऑपरेशन यूनिट की पुलिस ने हैरोइन सहित एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। जिसकी पहचान अंकुश शर्मा पुत्र विनोद शर्मा निवासी पंजाबी बाग...

जालंधर में आज इतने लोगों की रिपोर्ट आई कोरोना पॉजिटिव

जालंधर- जालंधर में आज 3 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जानकारी के अनुसार शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग को अलग-अलग सरकारी एवं निजी लैबोरेट्रीज में...

देहाती सीआईए की बड़ी सफलता, अवैध हथियार और नकदी सहित सुभाना गिरफ्तार..

वार्ड नंबर 43 में सीवरेज जाम समस्या 3 महीनों से बरकरार, जनता परेशान




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *